भोपालमध्य प्रदेश

मुख्यमंत्री चौहान पहुँचे भेल और पुराने भोपाल, लोगों से कहा “चिंतित न हों

Spread the love

 भोपाल

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान आज सोशल डिस्टेंसिंग के तय कायदों का इस्तेमाल करते हुए भोपाल के भेल क्षेत्र और पुराने भोपाल के कुछ स्थानों पर पहुँचे और लॉक डाउन में आम आदमी को दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। उन्होंने सबसे पहले भेल क्षेत्र में त्रिवेणी वूमेन हॉस्टल पहुँचकर वहाँ रह रही कामकाजी महिलाओं से मिले। महिलाओं ने बताया कि उन्हें आवश्यक सामग्री प्राप्त हो रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि – आप बिल्कुल चिंतित न हों, जीवन के लिए आवश्यक खान-पान की वस्तुएं और अन्य सामग्री आपको सहज उपलब्ध रहेंगी। आप सभी सोशल डिस्टेंसिंग का अवश्य पालन करें। सामाजिक दूरी रखने से यह समस्या आसानी से हल होगी। उन्होंने भरोसा दिलाया कि हम निश्चित ही यह जंग जीतेंगे।  चौहान से सहज संवाद के बाद कामकाजी महिलाएं काफी आश्वस्त नजर आईं।

मुख्यमंत्री  चौहान ने डाटर्स नेस्ट गर्ल्स हॉस्टल एम.पी. नगर जोन-2 जाकर वहाँ रह रही छात्राओं से बात की और वहाँ उपलब्ध सुविधाओं तथा आवश्यक सामग्री की आपूर्ति की व्यवस्था जानी।  चौहान ने एक अभिभावक की तरह छात्राओं से आत्मीयतापूर्वक पूछा कि मम्मी से बात करती रहती हो न, चिंता न करें मम्मी से कहना कि मामा आए थे हालचाल जानने। घर में फोन करके बता देना मम्मी पापा से कि चिंता ना करें,  यहाँ मामा हैं, जो हमारी चिंता कर रहे हैं। छात्राओं ने कहा कि आपके आने से अब हमें कोई चिंता नहीं है। मुख्यमंत्री ने मास्क और सेनेटाईजर के उपयोग एवं उपलब्धता की भी जानकारी ली।  चौहान ने छात्राओं से कोरोना के कारण आ रही समस्याओं के बारे में जाना और इससे निपटने के लिए संबंधित अधिकारी को तत्काल निर्देश दिए। उन्होंने छात्राओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि कुछ दिन की समस्या है। हम मिलकर लड़ेंगे और कोरोना को परास्त भी करेंगे।

राज्य-स्तरीय कंट्रोल रूम पहुँचे मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री  चौहान स्मार्ट सिटी आफिस में कंट्रोल रूम भी पहुँचे और लोगों को दी जा रही नागरिक  सेवाओं की जानकारी ली।  चौहान ने वहां काम कर रही टीम का हौसला बढ़ाया। अपर मुख्य सचिव  आई.सी.पी. केसरी ,प्रमुख सचिव  संजय दुबे और कमिश्नर भोपाल संभाग मती  कल्पना  वास्तव  ने मुख्यमंत्री को व्यवस्थाओं के बारे में बताया।  चौहान ने कंट्रोल रूम में काम कर रहे युवाओं से पूछा 'कोरोना से जंग जीत लेंगे न ? सभी ने कहा हाँ जीत लेंगे।'' मुख्यमंत्री ने जब यह चर्चा की, तो युवाओं के चेहरे पर आत्मविश्वास दिखाई दिया।  चौहान ने केन्द्र में काम कर रहे युवक-युवतियों से उनके काम के बारे में समझा, उनकी परेशानियों को जाना और कहा कि लोगों की ज्यादा से ज्यादा मदद करने का प्रयास करें। उन्होंने युवाओं को अधिक परिश्रम से कार्य के लिए प्रोत्साहित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह राष्ट्र की सेवा है। इस आपदा में आप सभी के योगदान को याद रखा जाएगा।

 शिवराज सिंह चौहान ने  कंट्रोल रूम में स्थापित  स्वास्थ्य प्रभाग के निरीक्षण के दौरान कहा कि प्रदेश की जनता को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं आने दें। सभी लोगों के स्वास्थ्य पर विशेष निगाह रखी जाए। यदि किसी व्यक्ति की सूचना में संक्रमण के लक्षण दिखते हैं, तो टीम भेजकर तुरंत डॉक्टर से परीक्षण कराया जाए। उन्होंने अधिकारियों-कर्मचारियों से कहा कि  इस युद्ध में सब के सहयोग से जीत होगी। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों कर्मचारियों का आव्हान करते हुए कहा कि 'आईये,  हम सब एक साथ मिलकर कोरोना को हराएं  और मानव जीवन को बचाएं।''

मुख्यमंत्री ने लोगों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं भोजन, राशन की व्यवस्था का भी अवलोकन किया। उन्होंने स्मार्ट सिटी स्थित 104/181 और व्हाट्सअप नंबर 9301089967 पर प्राप्त हो  रही  समस्याओं और उनके  निवारण के लिए बने  केन्द्र का  निरीक्षण किया।

पुराने शहर के बाशिंदे हुए हैरान

लॉकडाउन के दौरान मुख्यमंत्री   चौहान जब परस्पर दूरी के प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए बुधवारा चौराहा और इमामी गेट होते हुए अन्य क्षेत्र में पहुँचे, तो नागरिकों को काफी हैरानी हुई। लोगों के चेहरे पर प्रसन्नता के भाव भी थे। इस कठिन समय में दु:ख, दर्द जानने सड़कों पर निकले मुख्यमंत्री ने लोगों से कहा कि आप घबराएं नहीं, सरकार आपके साथ है, जरूरी सावधानियां अवश्य बरतें। यह सभी के लिए जरूरी है। उन्होंने नागरिकों से कहा कि धैर्य और साहस से इस विपदा का सामना करें। यह कठिन समय बीत जायेगा।

मुख्यमंत्री  चौहान माँ आशापुरा दरबार और अन्य क्षेत्रों में पहुंचकर कार्यकर्ताओं से भी मिले और उन्हें सेवा कार्य के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने वहां संचालित नि:शुल्क भोजन शाला का भी निरीक्षण किया। प्रतिदिन इस भोजनशाला में आने वाले व्यक्तियों ने बताया कि उन्हें दो वक्त की रोटी मिलने से कोरोना जैसी विपदा के प्रति कोई घबराहट नहीं है। मुख्यमंत्री ने नागरिकों को कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों की जानकारी दी। पूर्व महापौर  आलोक शर्मा साथ रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close