उत्तरप्रदेशराज्य

 IIT कानपुर का ऑक्सीजन ऑडिट एप हुआ लांच, पहले चरण में 60 अस्पतालों को किया गया शामिल 

Spread the love

लखनऊ
कानपुर आईआईटी के वैज्ञानिकों द्वार एक एप तैयार किया है, जिसे योगी सरकार ने बुधवार को लांच कर दिया। इस एप के लांच के साथ ही प्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन ऑडिट की शुरुआत हो गई। बता दें कि पहले चरण में 60 अस्पतालों को शामिल किया गया है, जिन कानपुर के हैलट, उर्सला व रामा मेडिकल कॉलेज शामिल हैं। इस एप से पूरा सिस्टम तैयार हो, जिससे भविष्य में सरकार तय करेगी कि किस अस्पताल को कब और कितनी ऑक्सीजन उपलब्ध करानी है। प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर, एकेटीयू के कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक समेत सभी तकनीकी संस्थानों के निदेशक व कुलपति संग बैठक की थी। 

इIIT कानपुर समें ऑक्सीजन ऑडिट सिस्टम एप तैयार करने की जिम्मेदारी आईआईटी कानपुर को मिली। संस्थान के वैज्ञानिक पद्मश्री प्रो. मणींद्र अग्रवाल ने सिर्फ 24 घंटे में एप तैयार कर प्रदेश सरकार को सौंप दिया। सरकार ने बिना देरी किए मंगलवार को एप लांच कर सभी विवि को डाटा फीडिंग का निर्देश जारी कर दिया है। पहले चरण में अधिकांश अस्पताल वे हैं, जो शुरुआती दौर से कोविड अस्पताल बने हैं। अपर मुख्य सचिव की ओर से हुई बैठक में सभी विवि को आवंटित किए गए अस्पतालों से डाटा लेकर अपलोड करने का निर्देश दिया है। इसके लिए सभी को यूजर आईडी-पासवर्ड भी अलॉट कर दिया गया है।

इस डाटा फीडिंग के बाद दूसरे चरण में बाकी अस्पतालों को शामिल किया जाएगा। डाटा फीडिंग के बाद यह एप एल्गोरिदम के आधार पर एक रिपोर्ट देगा। इसके आधार पर शासन ऑक्सीजन की आपूर्ति करेगा। इस प्रक्रिया से बर्बादी पूरी तरह रुक जाएगी और जरूरतमंद अस्पताल को समय से पहले ऑक्सीजन की आपूर्ति नजदीकी सेंटर से कराई जा सकेगी। जैसे- किसी अस्पताल को ऑक्सीजन की जरूरत है और नजदीक के दूसरे अस्पताल में उपलब्धता अधिक है तो यह जानकारी एप के माध्यम से मिल जाएगी और जल्द आपूर्ति हो जाएगी।
 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close