भोपालमध्य प्रदेश

संक्रमण नियंत्रण के सफल प्रयासों का अनुकरण करें – मुख्यमंत्री चौहान

Spread the love

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संक्रमण नियंत्रण के सफल प्रयासों का अनुकरण करें। प्रदेश के कुछ जिलों में संक्रमण की चेन तोड़ने के लिये शादियों की तिथियाँ भी आगे बढ़ा दी हैं। यह अनुकरणीय पहल है। प्रदेश में जनता कर्फ्यू के प्रयासों के सकारात्मक परिणाम मिलने लगे हैं। नये पॉजिटिव रोगियों की संख्या में कमी आई है। स्वस्थ होकर डिस्चार्ज होने वालों की संख्या बढ़ी है। मुख्यमंत्री चौहान आज प्रदेश के 18 जिलों में कोरोना नियंत्रण प्रयासों की वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कोरोना नियंत्रण के प्रयासों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले जिलों की सराहना करते हुए खण्डवा, छिन्दवाड़ा और बुरहानपुर कलेक्टर को नियंत्रण के लिये किये गये प्रयासों का विवरण शासन को भेजने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री चौहान ने इंदौर, उज्जैन, रतलाम, टीकमगढ़, धार, अनूपपुर, झाबुआ, नीमच, देवास, निवाड़ी, मंदसौर, खरगोन, शाजापुर, आगर-मालवा, अलीराजपुर, बड़वानी, खण्डवा और बुरहानपुर जिले के प्रभारी मंत्री, जन-प्रतिनिधियों और कलेक्टर से सीधे संवाद कर संक्रमण की स्थिति की जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री चौहान ने इंदौर में ड्राइव-इन द्वारा संक्रमण जाँच के लिये बड़े मैदानों में व्यवस्था के नवाचार की सराहना की। उन्होंने कहा कि संक्रमण की आरंभिक अवस्था में पहचान से उस पर आसानी से नियंत्रण हो जाता है। अत: संक्रमण की प्रारंभिक अवस्था में ही जाँच किया जाना जरूरी है। उन्होंने इस संबंध में जन-जागृति का व्यापक अभियान चलाने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि राज्य शासन गरीबों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिये संकल्पित है। गरीब व्यक्ति, जिनके पास पात्रता पर्ची नहीं है, उन्हें भी नि:शुल्क अनाज उपलब्ध कराया जाये। उन्होंने कहा कि किसी भी स्थान पर किसी भी अवस्था में भीड़-भाड़ नहीं होना चाहिये। जन-प्रतिनिधि इस संबंध में सामुदायिक संगठनों और स्वयं-सेवी संस्थाओं के सहयोग से शादी के आयोजनों को टालने के लिये प्रेरित करें। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि 'कोरोना को नकेल डालो, शादियों को अभी टालो' जैसे स्थानीय भाषा में स्लोगन बनाकर जन-जागरण के कार्य व्यापक स्तर पर किये जायें। उन्होंने कहा कि संक्रमण की चेन तोड़ना ही इस संकट से निजात दिलायेगा। चेन को तोड़ देंगे, तो इलाज की व्यवस्थाएँ भी बेहतर हो जायेंगी।

बैठक में बताया गया कि ऑक्सीजन एक्सप्रेस से आये टैंकरों को खाली कर हवाई जहाज द्वारा वापस भेजा गया है। प्रदेश को ऑक्सीजन के 2 नये टैंकर भी प्राप्त हुए हैं, जिन्हें राउरकेला में फिलिंग के लिये भेज दिया गया है। उन्हें बताया गया कि प्रदेश में आज 12 हजार 758 नये केसेस आये हैं। इस तरह गत दिवस की तुलना में 700 केसेस की कमी हुई है। उपचारित होने वालों की संख्या भी बढ़कर 14 हजार 156 हो गई है। वृद्धि दर भी घटकर 21.7 प्रतिशत हो गई है। प्रदेश में 204 आइसोलेशन और 64 ऑक्सीजन वाले कोविड केयर सेंटर शुरू हो गये हैं, जिनमें 12 हजार 290 आइसोलेशन बेड्स और 965 ऑक्सीजन बेड उपलब्ध हैं, जिनकी आक्यूपेंसी का प्रतिशत क्रमश: 29 और 58 प्रतिशत है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close