बिहारराज्य

शर्मनाक: लॉकडाउन के दौरान पुलिस की करतूत आई सामने, सब्जी व्यापारी ने नहीं दी घूस तो मार दी गोली

Spread the love

पटना                                                                                                                      
लॉकडाउन में पटना पुलिस का घिनौना कृत्य सामने आया है। पुलिस ने लॉक डाउन के बीच अपराधियों जैसा काम किया है। पटना पुलिस के तीन जवानों ने मानवता को शर्मसार कर दिया है। लॉकडाउन में एक कारोबारी द्वारा अवैध वसूली में सफल नहीं होने पर उसे गोली मार दिया गया है। इस घटना में सब्जी कारोबारी गंभीर रूप से घायल हो गया है। वहीं, मामला सामने आने पर आईजी के निर्देश पर पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की गई है। दानापुर में हुई घटना में कारोबारी सोनू साव काफी दहशत में है।

ऐसे मनमानी पहले नहीं दिखी 
सब्जी कारोबारी सोनू साव दियारा के पतलापुर गांव का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि वह बुधवार की रात 10 बजे एक जीप से आलू लेकर दानापुर के सब्जी मंडी जा रहा था। मंडी से पहले ही एक स्टैंड के पास उसकी गाड़ी को पुलिस के तीन जवानों ने रोक लिया। उससे अवैध रूप से रुपए मांगे जाने लगे। सोनू ने रुपए देने से साफ मना कर दिया। जब जवानों को रुपए नहीं मिले तो तीनों ने उसे धमकाया। इसी बीच पीछे से सामान लिए हुए एक-दो गाड़ी और वहां पहुंच गई। पुलिस उन लोगों से भी रुपए मांगने लगा।

गिरफ्तार हो गए जवान 
पीड़ित कारोबारी सोनू का कहना है कि गोली मारे जाने से पहले तीनों जवानों के साथ उसकी बहस भी हुई थी। इसी क्रम में उसने दानापुर के थानेदार से भी मोबाइल पर कॉल कर बात की थी। अवैध वसूली के मामले की जानकारी दी थी, लेकिन थानेदार ने पल्ला झाड़ लिया और एएसपी से बात करने को कहा। हालांकि गुरुवार को यह मामला जैसे ही अधिकारियों के संज्ञान में आया हड़कंप मच गया। रेंज आईजी संजय कुमार के निर्देश पर ही आरोपी तीनों जवानों की पहचान हुई और उन्हें गिरफ्तार किया गया। घायल सोनू के बयान पर दानापुर थाना में तीनों पुलिस के जवानों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया है।  

एक ने बदमाश बताकर मार दी गोली 
सोनू का कहना है कि वर्दीधारी जवानों का अन्य लोगों ने भी विरोध किया लेकिन वह नहीं माने। इसके बाद पिस्टल निकाल कर एक जवान ने सीधे सोनू साव को गोली मार दी, जो उसके पैर में लगी। दानापुर के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। बाद पता चला कि अवैध वसूली करने वाले तीनों जवान की ड्यूटी दानापुर के थाना में नहीं, बल्कि वहां के कोर्ट में थी। इनके जिम्मे दानापुर कोर्ट की सुरक्षा ड्यूटी थी। घायल आलू कारोबारी के अनुसार उसे गोली लंबे कद के जवान ने मारी थी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close