देश

वसुंधरा राजे की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव

Spread the love

जयपुर
राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया कोरोना वायरस के संक्रमण से बाल-बाल बच गई हैं। कोरोना संक्रमित सिंगर कनिका कपूर के संपर्क में आने के बाद पूर्व सीएम वसुंधरा ने कोरोना का टेस्ट कराथा, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। कनिका कपूर को कोरोना वायरस का संक्रमण होने की पुष्टि होने के बाद वसुंधरा अपने घर में क्वारंटीन हो गई थीं। साथ उन्होंने अपना कोरोना टेस्ट करवाया था जो कि अब निगेटिव आया है। इस पार्टी में उनके बेटे और सांसद दुष्यंत भी मौजूद थे, जो अभी सेल्फ आइसोलेशन में हैं। अभी तक दुष्यंत की जांच की रिपोर्ट नहीं आई है।

वसुंधरा ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा था कि, 'कुछ दिन पहले दुष्यंत और उनके ससुराल वालों के साथ मैं लखनऊ में एक डिनर पर गई थी। कनिका कपूर, जो कि कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई हैं, वें भी उस डिनर में बतौर अतिथि मौजूद थीं। सावधानी के तौर पर मैं और दुष्यंत सेल्फ-आइसोलेशन में हैं और हम सभी आवश्यक निर्देशों का पालन कर रहे हैं।'

राष्ट्रपति कोविंद भी कराएंगे कोरोना टेस्ट
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी अपना कोरोना टेस्ट करवाएंगे। उन्होंने यह फैसला बीजेपी सांसद दुष्यंत सिंह के कोरोना पीड़ित गायिका कनिका कपूर की ओर से दी गई पार्टी में शामिल होने की खबर सामने आने के बाद लिया है। कनिका से मिलने के बाद दुष्यंत सिंह राष्ट्रपति से मिले थे। राष्ट्रपति भवन के द्वारा जारी की गई सूचना में कहा गया है कि सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश का अनुसरण राष्ट्रपति भी करेंगे।

राष्ट्रपति ने अगले आदेश तक अपने सभी कार्यक्रमों को भी रद्द कर दिया है। इस बीच दुष्यंत सिंह के साथ किसी न किसी कार्यक्रम में रहे सांसद और अन्य लोग भी अपने आपको अलग-थलग कर रहे हैं। गौरतलब है कि भाजपा सांसद दुष्यंत सिंह अपनी मां और राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया के साथ रविवार को लखनऊ में कनिका कपूर के कार्यक्रम में शामिल हुए थे।

कनिका कपूर के खिलाफ मुकदमा
उधर, देश में कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाली पहली बॉलीवुड सेलिब्रिटी गायिका कनिका कपूर के खिलाफ लापरवाही के आरोप में लखनऊ के सरोजनी नगर थाने में शुक्रवार को मुकदमा दर्ज किया गया। राज्य सरकार ने लखनऊ जिला प्रशासन को पिछले दिनों आयोजित उन तीनों कार्यक्रमों की जांच करने के आदेश दिए हैं जिनमें कनिका शामिल हुई थी।

साथ ही उनमें शामिल हुए लोगों को चिन्हित कर उन्हें पृथक रखने के आदेश दिए गए हैं। लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पांडे ने बताया कि कनिका के खिलाफ खतरनाक बीमारी फैलाने की संभावना वाली हरकत करने के मुख्य आरोप में लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की तहरीर पर भारतीय दंड विधान की धारा 269, 270 और 188 के तहत सरोजिनी नगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close