छत्तीसगढ़

लॉकडाउन में बने मददगार, कम कीमत पर कई परिवारों तक पहुंचा रहे सब्जी

Spread the love

रायपुर
लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान सब्जी मार्केट (Vegetable Market) की जगह बदलने और सब्जियों के आसमान छूते दामों ने लोगों को परेशान कर रखा है. ऐसे में रायपुर (Raipur) की एक सोसाइटी के लोगों ने अनोखी पहल करते हुए यहां रहने वाले 5000 से ज्यादा परिवारों के लिए सोसाइटी के भीतर ही हर सब्जी 25 रूपये प्रति किलो में देने की पहल की है. लॉकडाउन के दौरान राजधानी का सबसे बड़ा सब्जी मार्केट बंद होने से लोग परेशान हैं. मार्केट की जगह को बदल दिया गया है, लेकिन हर व्यक्ति की पहुंच वहां तक नहीं है. ऐसे में राजधानी की अशोका रतन सोसायटी ने लोगों को सस्ते दरों पर सब्जियां उपलब्ध कराने की पहल की है और वह भी सोशल डिस्टेंस मेंटेन करते हुए.

मार्केट में जो सब्जियां 60 से 70 रूपये प्रति किलो मिल रही है वही सब्जियां यहां लोगों को केवल 25 रूपये किलो में उपलब्ध कराई जा रही है. यहां सब्जियां खरीदने पहुंची पायल सिंघानिया का कहना है कि उन्हें आसानी से कम रेट में सब्जियां मिल रही है और उन्हे कहीं बाहर जाना भी नहीं पड़ रहा है.

सोसायटी के अध्यक्ष दीनदयाल गोयल का कहना है कि सब्जियों के लिए सोसायटी के लोगों को बाहर न जाना पड़े और कम कीमत में उन्हें अपनी सोसाइटी में ही सुरक्षित तरीके से सब्जियां मुहैया हो जाए इसलिए उन्होंने यह पहल की है जिसमें सभी सदस्यों ने उनका सहयोग किया है. गोयल कहते है कि लॉकडाउन का कई लोग गलत फायदा उठा रहे हैं. ऐसे में राजधानी की अन्य सोसाइटी में भी ऐसे ही पहल की जानी चाहिए जिससे लोग घरों से बाहर निकलने के लिए बचेंगे और मार्केट में भी भीड़ कम होगी. राशन और सब्जियों की काला बाजारी पर सरकार ने सख्ती दिखाई है लेकिन बीना मॉनिटरिंग के इस पर लगाम लगाना मुश्किल है क्योंकि लोगों को आसानी से जरूरतों की चीज़ें नहीं मिल रही है. ऐसे में लोग ज्यादा कीमतों पर ही सामानों की खरीदी करना एक तरह से लोगों की मजबूरी बन गई है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close