उत्तरप्रदेशराज्य

यूपी : लॉकडाउन में ना लें टेंशन, घरों तक आएंगे सब्जी बेचने वाले – योगी आदित्यनाथ

Spread the love

 लखनऊ 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि जिन शहरों को लॉक डाउन किया गया है। वहां सप्लाई चेन को व्यवस्थित करें। जिससे लोगों को कोई दिक्कत न हो।  इसके लिए मंडी परिषद फलों और सब्जी बेचने वालों को चिन्हित कर मोहल्लों और कॉलोनियों में भेजें।

इसके साथ ही ध्यान रखें कि लोगों की भीड़ न लगे, ज्यादा दाम पर बिक्री न की जाए और लोग जमाखोरी न करने पाएं। दूध की भी आपूर्ति की जाए। सीएम ने कहा कि किसी भी जनपद में बिजली और पानी की व्यवस्था में भी कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिए।

असहयोग करने वालों पर होगी एफआईआर
मुख्यमंत्री के आदेश दिए हैं कि कोरोना की रोकथाम में जो लोग सहयोग न करें ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाए। प्रभाव को रोकने के लिए यूपी की सीमाओं को सील कर दिया गया है। जिससे कोई नया व्यक्ति प्रदेश में न आने पाए। किसी भी प्रकार की आपदा से निपटने के लिए एक इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर स्थापित करें। जिससे किसी भी आपदा के आने पर समय पर रिस्पांस किया जा सके।

घरों तक न पहुंचने वालों को परिवहन की बसों से पहुंचाएं
मुख्यमंत्री ने कहा कि जो व्यक्ति घरों तक नहीं पहुंच पाए हैं और सड़कों पर हैं। जिला प्रशासन परिवहन विभाग की बसों के माध्यम से उन्हें उनके घर भेजने की व्यवस्था करें। लोकल स्तर पर फंसे लोगों को पीआरवी-112 से भेजा जाए। सीएम ने कहा कि गुड्स की सप्लाई करने वाले वाहनों को रोका न जाए।

कालाबाजारी कतई न होने दें
प्रदेश में आवश्यक खाद्य सामग्री की किसी भी प्रकार की कमी नहीं होनी चाहिए। किसी भी प्रकार की कालाबाजारी पर पूरी तरह से रोक लगाएं। पैरा मेडिकल स्टाफ की छात्र और छात्राओं को वापस बुलाकर उन्हें ट्रेनिंग दी जाए। जो लोग क्वारनटाइन और कोरोना पॉजिटिव हैं, लेकिन उनका रवैया असहयोगात्मक है, ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए।

जल्द दें गरीबों के खाते में रकम
मुख्यमंत्री ने सोमवार की देर रात यह निर्देश अपने सरकारी आवास पांच कालिदास मार्ग पर अधिकारियों को लाकडाउन जिलों की समीक्षा करते हुए दिए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में क्लीनिंग और सेनिटाइजेशन की व्यवस्था की जाए। कहीं भी लोगों का जमावड़ा न लगे इसका विशेष ध्यान रखा जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द से जल्द दिहाड़ी मजदूरों के अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से एक साथ एक हजार रुपये की सहायता राशि भेजें। ठेला-खुमचा, रेहड़ी वालों के साथ ही रिक्शा और ई-रिक्शा वालों को भी इससे जोड़ते हुए उनके अकाउंट में भी सहायता राशि भेज दें।

निराश्रित महिलाओं को पेंशन भी जल्द दें
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज कल्याण विभाग दिव्यांगजन, विधवा और निराश्रित महिलाओं को पेंशन इसी माह में भेज दें। इन सभी को भेजी जाने वाली अगली किश्त 8-9 अप्रैल तक चली जाए। योगी ने कोरोना को लेकर स्वास्थ्य विभाग की तरफ से बनाए गए कमांड सेटंर को इंटीग्रेटेड करते हुए उसे सीएम हेल्पलाइन, 108, और यूपी-112 से जोड़ने के भी निर्देश दिए। 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close