बिहारराज्य

मधुबनी के अंधराठाढ़ी में मस्जिद में जांच करने गई पुलिस टीम पर हमला, फायरिंग और पथराव

Spread the love

मधुबनी 
बिहार के मधुबनी जिले के झंझारपुर अनुमंडल के अंधराठाढ़ी प्रखंड के गीदड़गंज गांव की मस्जिद में मंगलवार शाम सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ाने गई पुलिस और प्रशासन की टीम पर लोगों ने हमला कर दिया। हमलावरों ने बवाल करते पथराव शुरू कर दिया जिससे अंचल अधिकारी सहित अन्य कर्मी जख्मी हो गए। इस दौरान ग्रामीणों की ओर से फायरिंग भी की गई।

अंधराठाढ़ी थाना से लेकर गीदड़गंज तक अफरा-तफरी का माहौल
बवाल बढ़ते देख बीडीओ व थानाध्यक्ष किसी तरह जान बचाकर वहां से निकले। हमलावरों ने प्रशासन की एक गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर तालाब में गिरा दिया। इस दौरान अंधराठाढ़ी थाना से लेकर गीदड़गंज तक अफरा-तफरी का माहौल है। मधुबनी एसपी डॉ. सत्यप्रकाश ने बताया कि थानाध्यक्ष को मस्जिद में भीड़ और बाहरी लोगों के होने की सूचना मिली थी। इसपर जब पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की टीम पहुंची तो ग्रामीणों के एक गुट ने अचानक हमला बोल दिया। हमलावरों पर एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी की कार्रवाई होगी। वहीं झंझारपुर एसडीपीओ ने ग्रामीणों द्वारा गोली चलाने की पुष्टि की।

मस्जिद में जमात में कई लोगों के शामिल होने की सूचना मिली थी
जानकारी के अनुसार पुलिस को मस्जिद में जमात में कई लोगों के शामिल होने की सूचना मिली थी। विदेश की यात्रा से लौटे लोगों के भी जमात में शामिल होने की भी सूचना थी। अंधराठाढ़ी बीडीओ राजेश्वर राम, सीओ विष्णुदेव सिंह व थानाध्यक्ष अमृत लाल वर्मण दल बल के साथ शाम करीब साढ़े छह बजे गीदड़गंज गांव स्थित मस्जिद पहुंचे। भीड़ देख पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग बनाने को कहा। आदेश मानने से इनकार करने पर जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो लोगों ने हमला कर दिया। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई शुरू की तो छतों से पत्थरबाजी शुरू हो गई। हालात बेकाबू हो गया। हमले में सीओ जख्मी हो गए। अन्य कर्मियों को चोटें आयीं। 

हमलावरों ने प्रशासन की एक जीप को क्षतिग्रस्त कर तालाब में गिरा दिया। अधिकारी अन्य कर्मी वहां से वापस लौटे। एसपी डॉ. सत्य प्रकाश ने बताया कि वहां दो गुटों में विवाद है। एक गुट के लोगों ने पुलिस प्रशासन पर हमला किया है। हमलावरों पर एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है। घटना में शामिल लोगों की शीघ्र गिरफ्तारी होगी। एसपी ने हमलावरों पर संक्रमण रोकने के प्रयास को विफल करने का आरोप भी बताया है।

मस्जिद में कुछ लोगों के जुटे होने की सूचना पर झंझारपुर एसडीओ इस बात का सत्यापन करने गए थे कि वहां कोई बाहर का भी व्यक्ति है या नहीं। इसी दौरान पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू हो गयी। इसके बाद पुलिस पीछे हट गयी। इस घटना के तार निजामुद्दीन से जुड़े हैं कि नहीं, इसका सत्यापन किया जा रहा है। – अजिताभ कुमार, आईजी, मिथिला प्रक्षेत्र।

ऐसा माना जा रहा है कि गिदरगंज से कोई निजामुद्दीन नहीं गया था इसलिए कोरोना के संक्रमण की फिलहाल कोई आशंका नहीं है। पथराव में बीडीओ, सीओ व थाना प्रभारी को चोटें आयी हैं। – मयंक बड़बरे प्रमंडलीय आयुक्त, दरभंगा

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close