भोपालमध्य प्रदेश

नोवल कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये प्रदेश-भर में किये जा रहे प्रयास

Spread the love

 भोपाल

प्रदेश-भर में नोवल कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये प्रशासनिक स्तर पर व्यापक प्रयास किये जा रहे हैं। इन प्रयासों में प्रमुख रूप से समाज में जागरूकता कार्यक्रमों पर विशेष जोर दिया जा रहा है।

भिण्ड जिले में कोरोना वायरस संक्रमित प्रकरण सामने नहीं आया है। जिले में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं डब्ल्यूएचओ प्रतिनिधि द्वारा अधिकारियों और कर्मचारियों को संक्रमण की रोकथाम के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया है। इसके साथ ही, रोग के लक्षणों की जानकारी भी दी गई।

खण्डवा जिला कलेक्टर मती तन्वी सुन्द्रियाल ने जिला अस्पताल का भ्रमण कर कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये की गई व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश दिये कि अस्पताल में दवा वितरण और पैथालॉजी जाँच के लिये एक से अधिक काउन्टर बनाये जायें। उन्होंने अस्पताल में इलाज कराने आये मरीजों की भीड़ को कम करने के लिये टोकन व्यवस्था शुरू करने के भी निर्देश दिये। इसके साथ ही अस्पताल में साफ-सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने के लिये भी कहा। कलेक्टर ने सफाई स्टाफ को निर्देशित किया कि अस्पताल की रेलिंग एवं ऐसे स्थान, जहाँ अस्पताल आने वाले मरीज तथा उनके परिजनों के हाथ स्पर्श होते हैं, वहां नियमित अन्तराल से सोडियम हाइपो क्लोराइड का स्प्रे किया जाये। कलेक्टर ने अस्पताल में बनाये गये आईसोलेशन वार्ड एवं क्वारेन्टाइन वार्ड में की गई व्यवस्थाओं को देखा। उन्होंने मीडिया प्रतिनिधियों की बैठक लेकर उन्हें जन-जागरूकता कार्यक्रम में सहयोग देने का आग्रह किया।

अशोकनगर जिले में जन-सामान्य को कोरोना वायरस के लक्षणों एवं इनसे बचाव के बारे में जानकारी दी जा रही है। जन-सामान्य को हाथ की बजाए नमस्ते से अभिवादन करने की सलाह दी जा रही है। बैतूल जिले में परिवहन अधिकारी ने बस संचालकों को यात्रियों की सुरक्षा के लिये नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिये सुरक्षात्मक उपाय अपनाये जाने के निर्देश दिये हैं। बस संचालकों को बस के गेट, हैण्डल और सीटों को सेनीटाइजर से निरंतर साफ करने को कहा है। बस की खिड़कियों से पर्दों को तुरंत निकालने के निर्देश भी दिये गये हैं। कलेक्टर ने पर्यटन स्थलों में 31 मार्च तक पर्यटकों की बुकिंग न लेने के निर्देश दिये हैं।

सिंगरौली जिले में कलेक्टर  के.वी.एस. चौधरी ने जिले के सभी ड्रग निरीक्षकों को मेडिकल स्टोर्स की लगातार जाँच करने के निर्देश दिये हैं। औषधि विक्रेताओं को अपनी दुकानों में मास्क 2 प्लाई एवं 3 प्लाई सर्जिकल मास्क, एन 95 मास्क और हैण्ड सेनेटाइजर की आवश्यक रूप से उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये कहा है। सिंगरौली में नगर निगम द्वारा ऐहतियात के तौर पर सभी वार्डों में विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है।

अनूपपुर जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये जिला टास्क फोर्स और ब्लॉक स्तर पर ब्लॉक टास्क फोर्स तथा रेपिड रिस्पांस टीम का गठन किया गया है।

नरसिंहपुर जिले में कलेक्टर  दीपक सक्सेना द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिये जन-सामान्य को निरंतर जानकारी दी जा रही है। कलेक्ट्रेट परिसर में स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा कार्यालय गेट पर अधिकारियों एवं जन-सामान्य के हाथों को साबुन से धुलवाया जा रहा है। इसके साथ ही शरीर के तापमान की थर्मोस्केनर से जाँच की जा रही है।

उज्जैन जिले में आयुष विंग द्वारा कोरोना वायरस के बचाव के लिये नि:शुल्क औषधि का वितरण किया जा रहा है। जिले में 34 ग्रामीण औषधालयों के माध्यम से भी दवाईयों का वितरण सुनिश्चित किया गया है। अलीराजपुर जिले में कलेक्टर मती सुरभि गुप्ता ने कोरोना वायरस कोविड-19 से बचाव के संबंध में प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये हैं। आदेश के अनुसार सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ लगाने और जुलूस आदि पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया गया है।

खरगोन जिले में कलेक्टर  गोपालचंद्र डाड ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा-144 के अंतर्गत आदेश जारी किये हैं। प्रतिबंधात्मक आदेश में बस संचालक एवं ऑपरेटर, जिनकी बसें महाराष्ट्र से आती हैं और खरगोन जिले में प्रवेश करती हैं, उन बसों का कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये ऐहतियात के तौर पर जिले की सीमाओं में प्रवेश वर्जित किया गया है। इसके साथ ही, 31 मार्च तक स्कूल, कॉलेज, आँगनवाड़ी केन्द्र, सिनेमा हॉल, जन-सुनवाई को भी बंद किया गया है। जिले में शासकीय आयुर्वेद चिकित्सालय द्वारा शहर के नागरिकों को प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिये काढ़ा पिलाया जा रहा है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close