उत्तरप्रदेशराज्य

नमाज को जुटी भीड़, पुलिस पर बरसाए पत्‍थर

Spread the love

कन्नौज
कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए केंद्र सरकार, राज्य सरकार से लेकर धर्मगुरु तक अपील कर रहे हैं कि नमाज के लिए मस्जिद या किसी एक जगह न इकट्ठे हों और अपने-अपने घरों में ही नमाज अता करें। हालांकि कुछ लोगों को इन अपीलों से कोई फर्क नहीं पड़ता। शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में जुमे की नमाज अता करने के लिए जुटी भीड़ को हटाने गई पुलिस पर जमकर पत्थरबाजी हुई।

इस घटना में दो पुलिसवाले गंभीर रूप से घायल हुए हैं। लॉकडाउन के बावजूद जुमे की नमाज के लिए कन्नौज के हाजीगंज स्थित एक घर में नमाजियों की भीड़ जमा हुई थी। सूचना मिलने पर पुलिस की टीम इन नमाजियों को हटाने पहुंची। हालांकि नमाजियों ने पुलिसकर्मियों पर ही हमला कर दिया। हालात बिगड़ते देख पुलिसकर्मी वहां से जान बचाकर भाग निकले।

आईजी बोले, खतरे से बाहर हैं पुलिसकर्मी
कन्नौज के एसपी अमरेंद्र सिंह ने कहा, 'एक घर में करीब 30 लोगों की भीड़ नमाज के लिए इकट्ठा हुई थी। सूचना मिलने पर जब पुलिस कॉन्स्टेबल पूछताछ करने पहुंचे तो उन्होंने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया। इसके बाद आसपास के घरों की छतों से पत्थरबाजी होने लगी। घायल कॉन्स्टेबल्स को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कुछ लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है।' कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल ने कहा कि हमले में 2 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इनकी हालत खतरे से बाहर है। कुछ लोगों को हिरासत में लेकर मामले की जांच की जा रही है।

सहारनपुर में भी मस्जिद में इकट्ठा भीड़ ने किया था पुलिस पर हमला
ऐसी ही घटना सहारनपुर के जमालपुर गांव में भी देखने को मिली थी। यहां नमाज पढ़ने को लेकर मस्जिद के बाहर इकट्ठा भीड़ को हटाने पहुंची पुलिस पर लोगों ने हमला कर दिया। इस हमले में दो कॉन्स्टेबल घायल हुए थे। पुलिस ने कुछ महिलाओं समेत 26 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close