देश

तमिलनाडु में 2 दिन तो UP में 1 हफ्ते में दोगुने हुए कोरोना केस

Spread the love

 
नई दिल्ली 

भारत में कोरोना वायरस केस बुधवार को एक ही दिन में 380 बढ़ गए. जब से वायरस ने देश में कदम रखा, एक ही दिन में ये सबसे ज्यादा केस बढ़े. भारत में 2 अप्रैल सुबह 10.30 बजे कोरोना (Covid 19) पॉजिटिव केसों की संख्या 2,032 तक पहुंच गई. देश में इस घातक वायरस की वजह से अब तक 63 लोगों की जान जा चुकी है. हफ्ते की शुरुआत में भारत में कुल पॉजिटिव केसों की संख्या एक हज़ार से थोड़ी ऊपर थी. इंडिया टुडे डेटा इंटेलीजेंस यूनिट (DIU) ने अपने पहले के विश्लेषण में पाया था कि भारत दुनिया में Covid-19 केसों के बढ़ने की रफ्तार धीमी रखने के मामले में जापान के बाद दूसरा देश है. 

हर 4 दिन में दुगना केस
DIU के विश्लेषण के मुताबिक 1 अप्रैल की शाम तक राष्ट्रीय स्तर की तस्वीर बताती है कि जब से भारत ने 100 का आंकड़ा पार किया है, कोरोना वायरस केसों की संख्या हर चार दिन में दुगनी हुई, लेकिन रविवार 29 मार्च की शाम को जब कोरोना वायरस केसों की संख्या 1000 के पार हुई तब से ये संख्या हर तीन दिन में दोगुनी हो रही है. ये इसलिए क्योंकि भारत ने 100 से 1000 तक पहुंचने में लंबा समय लिया था. साफ है कि 1000 से 2000 तक केस पहुंचने की रफ्तार 100 से 1000 तक केस पहुंचने की तुलना में पांच गुणा तेज रही.

किस राज्य में सबसे तेज बढ़ोतरी?
DIU ने देश में आठ सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों से पुष्ट कोरोना वायरस केसों की संख्या का विश्लेषण किया. ये राज्य हैं- महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना और राजस्थान.

DIU ने इन राज्यों में कोरोना वायरस केसों की संख्या 10 पार करने के बाद ये जानने की कोशिश की, वहां केसों की संख्या के दुगना होने में कितना वक्त लग रहा है. हमारे विश्लेषण से सामने आया कि तमिलनाडु में हर 2.3 दिन में केस दुगने हो रहे हैं. ये राष्ट्रीय औसत से एक दिन कम है.

मोटे तौर पर देखा जाए तो ये तमिलनाडु में 10 से 234 केसों की संख्या पहुंचने में महज 10 दिन ही लगे. 24 मार्च तक तमिलनाडु में पुष्ट केसों की संख्या 15 ही थी जो 1 अप्रैल की शाम तक बढ़कर 234 हो गई थी.

100 केस के लिए यूपी में लगे 23 दिन
तमिलनाडु के बाद दिल्ली का नंबर आता है. जहां हर 3.8 दिन में केसों की संख्या दुगनी हो रही है. देशभर में सबसे ज्यादा केस महाराष्ट्र से रिपोर्ट हुए हैं. यहां कोरोना केसों की संख्या हर 4.3 दिन में दुगनी हो रही है. इन राज्यों के बाद तेलंगाना (4.4 दिन), राजस्थान (4.4 दिन) और कर्नाटक (4.8 दिन) का नंबर आता है.

सबसे ज्यादा केसों के मामले में देश में दूसरे नंबर के राज्य केरल में हर 5 दिन में कोरोना वायरस केस दुगने हो रहे हैं. वहीं देश में सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में केसों की संख्या 6.8 दिन (करीब 1 हफ्ता) में दुगनी हो रही है.

उत्तर प्रदेश में 11 से 108 केस पहुंचने में 23 दिन लगे, वहीं तमिलनाडु में 15 केस से 234 तक पहुंचने में महज 9 दिन ही लगे. केसों का दुगना होना निर्भर करता है कि कितनी तेजी से केस बढ़ रहे हैं. जाहिर है इस मामले में उत्तर प्रदेश से तमिलनाडु साफ तौर पर आगे है.

तबलीगी जमात और हैरान करने वाला उछाल
तबलीगी जमात जिसका दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन में मार्च के मध्य में जमावड़ा हुआ था, उसे भारत में वायरस का बड़ा संवाहक करार दिया जा रहा है.

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close