ग्वालियरमध्य प्रदेश

जलने से किशोरी की मौत, नदी में बहाया शव पुलिस ने निकलवाया

Spread the love

भिंड (रौन)
रौन के बसंतपुरा गांव में आग लगने से एक 17 साल की किशोरी की मौत हो गई। परिजन ने किशोरी की मौत की सूचना पुलिस को नहीं देते हुए सिंध नदी में जलदाह कर दिया। मंगलवार को पुलिस तक सूचना पहुंची तो पुलिस ने स्थानीय गोताखोरों की मदद से रायकोट गांव से सिंध नदी से शव को निकलवाकर पीएम के लिए अस्पताल भिजवाया। टीआई रौन का कहना है कि मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। बसंतपुरा निवासी 17 साल की किशोरी प्रियंका जाटव पुत्री रामजीलाल जाटव की जलने से सोमवार को मौत हो गई। परिजन ने किशोरी की मौत की सूचना पुलिस को नहीं देते हुए शव को सिंध नदी में जलदाह कर दिया। बताया जाता है कि मंगलवार सुबह रौन टीआई संजीव नयन शर्मा को किसी ने जानकारी दी कि बसंतपुरा गांव में आग लगने से किशोरी की मौत हो गई थी। टीआई ने फोर्स भेजकर पता किया तो परिजन ने बताया कि घर में काम करते समय आग की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई थी। जानकारी के अनुसार शव को रायकोट गांव के पास सिंध नदी में जलदाह कर दिया है। टीआई ने इंदुर्खी से गोताखोर कैलाश बाथम और करू बाथम की मदद से शव को तलाश कर बाहर निकलवाया। टीआई शर्मा का कहना है कि परिजन से पूछताछ कर रहे हैं कि आखिर किशोरी किस तरह से जली थी और पुलिस को बिना सूचना दिए ही जलदाह क्यों किया था। फिलहाल मर्ग कायम कर लिया है। 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close