देश

जनता कर्फ्यू : कोरोना के खिलाफ सबसे बड़ी जंग, रात 9 बजे तक के लिए सबकुछ बंद!

Spread the love

 
नई दिल्ली 

दुनिया के 186 देश कोरोना वायरस की चपेट में हैं. इस खतरनाक संक्रमण का असर भारत में तेजी से बढ़ रहा है. देश में हालात बिगड़ने न पाएं, इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता कर्फ्यू लगाने का आग्रह किया है. जनता कर्फ्यू के लिए देश पूरी तरह तैयार है. रविवार सुबह 7 से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू रहेगा. जनता कर्फ्यू में हमें खुद को अपने ही घरों में सुरक्षित रखना है और देश में संक्रमण को बढ़ने से रोकना है.

जनता कर्फ्यू का असर दिख रहा है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मेट्रो सेवा बंद है. सड़कों पर भी सन्नाटा छाया हुआ है. देश के विभिन्न हिस्सों से आ रही तस्वीरों से जनता कर्फ्यू का पता चल रहा. उत्तर प्रदेश के अमरोहा में देखा जा सकता है कि बस स्डैंड पर बसें खड़ी हैं. यात्री भी नदारद हैं.
 
यूपी के अमरोहा में बस स्टैंड पर छाया सन्नाटा
दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, नोएडा लखनऊ, बेंगलुरु सहित कई अन्य बड़े शहरों में मॉल और पर्यटक स्थल पहले से ही बंद हैं. कई राज्यों में बसों पर भी पाबंदी लगाई गई है. इसके अलावा कई सारी उड़ानें भी रद्द की गई हैं. जनता कर्फ्यू के तहत ही दिल्ली में ऑटो टैक्सी यूनियन ने ऐलान किया कि रविवार को दिल्ली में ऑटो टैक्सी नहीं चलेंगे. इधर, हरियाणा और राजस्थान में धारा-144 लागू है.
लोग भी कोरोना के खिलाफ जंग के लिए तैयार हो चुके हैं. इसी वजह से शनिवार को लोग निहायत जरुरी कामों के लिए ही सड़कों पर उतरे. कई जगहों पर लोग जनता कर्फ्यू के लिए अवेयर करते हुए भी नजर आए.

भारत में कितने केस आए सामने
भारत में अभी तक कुल 333 केस सामने आए हैं. इनमें से 28 को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है जबकि 301 मामले सक्रिय हैं यानी इनका इलाज चल रहा है. देश में कोरोना वायरस से अब तक 4 मौतें हुई हैं.

प्रधानमंत्री का आह्नान
प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को कहा था कि आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को छोड़कर अन्य सभी लोग जनता कर्फ्यू के दिन सुबह 7 से लेकर रात 9 बजे तक घरों से बाहर न निकलने का संकल्प लें. साथ ही रविवार को ही शाम पांच बजे घरों के सामने या बालकनी में खड़े होकर डॉक्टर, मीडिया और होम डिलीवरी करने वाले कर्मियों के लिए पांच मिनट तक ताली या थाली बजाकर सैल्यूट करें. रविवार को रेलवे ने भी सभी यात्री ट्रेनों को बंद रखने का ऐलान किया है.

क्यों जरूरी है यह जनता कर्फ्यू
जनता कर्फ्यू के जरिए हम 14 घंटे अपने घर में रहकर कोरोना वायरस की एक बड़ी कड़ी तोड़ सकते हैं. दरअसल, जैसे परमाणु बम चेन रिएक्शन से एक्टिवेट होता है वैसे ही कोरोना भी चेन बनाकर दुनिया को जकड़ रहा है. मगर रविवार को जनता कर्फ्यू के जरिए ये चेन हम तोड़ सकते हैं.

आज रात 10 बजे तक नहीं चलेंगी ट्रेनें
रेल मंत्रालय ने घोषणा की है कि 21/22 मार्च की आधी रात यानी ठीक 12 बजे से 22 मार्च की देर रात 10 बजे तक, 22 घंटे कोई भी यात्री ट्रेन नहीं चलेगी. हालांकि, रेल मंत्रालय ने पहले ही दिन सात घंटे की यात्रा पूरी कर चुकी पैसेंजर ट्रेन के लिए राहत का इंतजाम किया है. ऐसी ट्रेनों के गंतव्य तक परिचालन की अनुमति होगी.

अब तक दुनिया में करीब 12 हजार मौतें
बता दें कि कोरोना वायरस के चलते पूरी दुनिया में करीब 12 हजार लोगों की जान चुकी है. इस संक्रमण से सबसे ज्यादा मौतें इटली (4800 से ज्यादा) में हुई हैं. चीन से आए इस वायरस से भारत में करीब 337 लोग संक्रमित है. इसका प्रकोप भारत में तेजी से बढ़ रहा है. ऐसे में एहतियात के तौर पर केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से एडवाइजरी भी जारी की गई है.

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close