छत्तीसगढ़

कोरोना से निपटने रिम्स मेडिकल कॉलेज अस्पताल को नियंत्रण में लेने की तैयारी

Spread the love

रायपुर
कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए सरकार ने आपातकालीन इंतजाम कर रही है। इस कड़ी में नरदहा के रिम्स मेडिकल कॉलेज के अस्पताल को स्वास्थ्य विभाग ने अपने नियंत्रण में ले रही है। यहां 3 सौ से अधिक मरीजों को रखा जा सकेगा। इससे परे पंचायत और अन्य विभागों के भवनों को भी आइसोलेशन वार्ड के रूप में तैयार किया जा रहा है। खबर है कि पूरे प्रदेश से करीब 12 सौ से अधिक लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया है।

बताया गया कि कोरोना से निपटने के लिए आपातकालीन इंतजाम किए जा रहे हैं। हालांकि वर्तमान में प्रदेश में सिर्फ एक कोरोना पॉजिटिव मिला है। मगर आने वाले दिनों में इसकी संख्या में वृद्धि की संभावना से इंकार नहीं किया जा रहा है। सरकार ने इससे निपटने के पुख्ता  इंतजाम किए हैं। केंद्र सरकार ने 18 सौ लोगों की सूची मुहैया कराई है, जो कि हाल फिलहाल में कोरोना प्रभावित देशों की यात्रा से लौटे हैं। इनमें से 1590 का पता लगा लिया गया है और 1214 को होम आइसोलेशन में रखा गया है।

सूत्रों के मुताबिक कोरोना प्रभावित मरीज बड़ी संख्या में आ सकते हैं। इससे निपटने के लिए आपातकालीन इंतजाम किए जा रहे हैं। नरदहा के निजी मेडिकल कॉलेज रिम्स के अस्पताल को स्वास्थ्य विभाग अपने नियंत्रण में लेने जा रही है। यहां करीब 3 सौ बिस्तर की सुविधाएं हैं और यहां बीमार मरीजों को आइसोलेट किया जा सकेगा। इसके अलावा कई और नए भवनों को भी स्वास्थ्य विभाग लेने जा रही है। इनमें अंबिकापुर में नवनिर्मित जीएसटी भवन को आइसोलेशन सेंटर के रूप में उपयोग में लाया जाएगा।

पंचायत विभाग के निमोरा ट्रेनिंग सेंटर और लालपुर अस्पताल को पहले ही आइसोलेशन सेंटर के रूप में तब्दील कर दिया गया है। यहां 30 से अधिक कोरोना संदिग्धों को रखा गया है। कुछ निजी संस्थाओं ने भी अपने भवन को आइसोलेशन सेंटर के लिए मुफ्त देने की पेशकश की है। शंकर नगर सिंधी पंचायत और कई अन्य संस्थाओं के भवन भी लिए जा सकते हैं। जिन्हें आइसोलेशन सेंटर के रूप में विकसित किया जाएगा। इससे परे बालाजी, वीवाय और अन्य निजी अस्पतालों में बिस्तर सुरक्षित रखने के लिए कहा गया है। यहां स्वास्थ्य विभाग चिकित्सकों के लिए विशेष ड्रेस और अन्य सामग्री मुहैया करा रही है। कोई भी निजी अस्पताल कोरोना संक्रमितों का इलाज करने से मना नहीं कर सकेगा, इसके लिए दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close