देश

कोरोना से देश में अब तक 25 की मौत, पिछले 24 घंटे में 106 केस, पॉजिटिव मामलों की संख्या 979 पहुंची

Spread the love

 नई दिल्ली 
भारत में कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी अपडेटेड आंकड़े के मुताबिक, देश में अब तक कोविड-19 के 979 मामले सामने आए हैं, जिनमें 25 लोगों की मौत भी शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के 106 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं और 6 मौतों की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि हम ऐसे स्थानों की पहचान कर रहे हैं, जहां मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। 

मंत्रालय ने मौत के छह नए मामले दर्ज किए जिनमें दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र और तेलंगाना में एक-एक संक्रमित व्यक्ति की मौत हुई है। इस तरह, कोरोना वायरस संक्रमण से देशभर में अब तक महाराष्ट्र में छह, गुजरात में चार, कर्नाटक में तीन, मध्य प्रदेश में दो और दिल्ली में भी दो लोगों की मौत हो चुकी है जबकि केरल, तेलंगाना, तमिलनाडु, बिहार, पंजाब, पश्चिम बंगाल, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में एक-एक संक्रमित की जान गई।
 
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि आपात चिकित्सा प्रबंधन, पृथक बेड, पृथक सुविधाओं सहित अन्य विषयों पर मार्गदर्शन के लिए 10 समूह बनाए गए हैं। साथ ही मंत्रालय ने कहा कि आयुष मंत्रालय का देश भर में नेटवर्क है और यह साक्ष्य आधारित अनुसंधान के जरिए जागरूकता फैला सकता है। रविवार की शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस के मरीजों के लिए विशेष खंड अस्पतालों के लिए कहा गया है और दूसरे मरीजों से उन्हें पृथक करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। 
 
वहीं, आईसीएमआर की ओर से कहा गया कि कोरोना वायरस के करीब 35,000 जांच की गई है और 113 लैब काम कर रहे हैं। इसके अलावा, 47 निजी लैब को कोरोना वायरस के लिए जांच की अनुमति दी गई है। वैश्विक स्तर पर कोरोना के कहर की बात करें तो दुनियाभर में इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या 30 हजार के पार पहुंच गई है। इसके अलावा करीब साढ़े छह लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। 

इस बीच कोरोना लॉकडाउन की वजह से लगातार हो रहे पलायन पर केंद्र सरकार ने सख्ती दिखाते हुए राज्यों को चेताया है। केंद्र ने राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश से लॉकडाउन के दौरान प्रवासी कामगारों की आवाजाही को रोकने के लिए प्रभावी तरीके से राज्य और जिलों की सीमा सील करने को कहा है। केंद्र सरकार ने राज्यों से सुनिश्चित करने को कहा है कि शहरों में या राजमार्गों पर आवाजाही नहीं हो क्योंकि लॉकडाउन जारी है। केवल सामान को लाने-ले जाने की अनुमति होनी चाहिए। राज्यों को उनलोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है, जो छात्रों अथवा मजदूरों से जगह खाली करने को कहता है। इसके अलावा सरकार ने कहा है कि जो भी लॉकडाउन का उल्लंघन करेंगे, उन्हें 14 दिन के क्वारंटाइन में भेज दिया जाएगा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close