विदेश

कोरोना से अमेरिका में हाहाकार, डेढ़ लाख से ज्यादा संक्रमित, तीन हजार से अधिक मौतें

Spread the love

अमेरिका                                                                                                                          
चीन के वुहान से फैला कोरोना वायरस अमेरिका में तबाही मचा रहा है। अमेरिका में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या डेढ़ लाख के पार पहुंच गई है और तीन हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। पूरी दुनिया में कोरोना से साढ़े सात लाख लोग संक्रमित हैं।

अमेरिका में कोरोना से सोमवार को कम से कम 540 लोगों की मौत हुई, जिसके बाद यह आंकड़ा बढ़कर 3017 पहुंच गया। रॉयटर्स के अलावा अमेरिका में अब तक 163,000 मामले पॉजिटिव पाए जा चुके हैं।

वायरस के बढ़ते मामलों के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में प्रेस ब्रीफिंग करते हुए कहा कि दस लाख से अधिक अमेरिकियों की कोरोना की जांच हो चुकी है। यह कुल जनसंख्या का महज तीन फीसदी ही है। न्यूयॉर्क में कोरोना से निपटने के लिए रविवार से 68 बेड के अस्पताल का निर्माण शुरू हो गया। 
 
वहीं, कोरोना वायरस से अमेरिका ही नहीं, यूरोपीय देशों में भी हाहाकार मचा हुआ है। यूरोप में इस वैश्विक महामारी से 25,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। दुनिया भर में कोरोना से सबसे अधिक मौतें इटली में 11,591 से अधिक हुई हैं। वहीं दूसरे नंबर पर स्पेन में 7,340 लोगों की मौत होने की पुष्टि हुई है।

आधिकारिक सूत्रों के आंकड़ों के आधार के मुताबिक, इस वैश्विक महामारी से यूरोपीय देशों में कुल संक्रमित 399,381 मामलों में से कुल 25,037 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। दुनियाभर में इस वायरस से सबसे अधिक इटली और स्पेन प्रभावित हुए हैं। इटली में कोरोना संक्रमण के मामलों की कुल संख्या करीब एक लाख पहुंच गई हैं ।

स्पेन में सोमवार को 537 से अधिक लोगों की मौत हो गई, इसी के साथ मृतकों की कुल संख्या 7,340 से अधिक हो चुकी है। स्पेन में संक्रमण के 5,085 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे कुल संख्या 85,195 पहुंच गई। फ्रांस में 2606 जबकि ब्रिटेन में 1,408 लोगों की मौत हो चुकी है।

इटली में 12 अप्रैल तक बढ़ा लॉकडाउन

वहीं, इटली ने कोरोना वायरस संक्रमण को जड़ से खत्म करने की खातिर लॉकडाउन की अवधि अप्रैल माह के मध्य तक बढ़ा दी है। यहां इस संक्रमण के कारण दुनिया में सर्वाधिक 11,591 लोगों की मौत हुई है। प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंते ने सोमवार को कहा कि बंद में किसी भी तरह की ढील धीरे-धीरे करके ही दी जाएगी ताकि इटली ने अब तक इस संक्रमण के खिलाफ जो कुछ भी सफलता हासिल की है, उस पर पानी न फिर जाए।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close