देश

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए ‘जनता कर्फ्यू’ शुरू, कुल 333 मरीज संक्रमित

Spread the love

नई दिल्ली
कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह सात बजे से रात के नौ बजे तक 'जनता कर्फ्यू' का ऐलान किया है. इतना ही नहीं पीएम मोदी ने शाम पांच बजे सभी लोगों से अपने बालकनी में खड़े होकर ताली और थाली बजाने की अपील की है. ये दरअसल उन लोगों के लिए हौसला अफजाई होगा जो इस संकट की घड़ी में भी आम लोगों को सुरक्षित रखने के लिए घर से बाहर निकलकर काम कर रहे हैं. बता दें देशभर में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 80 के करीब नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं. रविवार सुबह तक पूरे देश भर में COVID-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या 333 हो गई है. सबसे बुरा हाल महाराष्ट्र का है, जहां अभी तक 63 मामले सामने आए हैं, जिसमें से एक की मौत हो गई है. कोरोना से देश के 22 राज्य प्रभावित हैं.
प्राइवेट लैब्स भी कर सकेंगे कोविड-19 टेस्ट, चुकाने होंगे इतने रुपये
इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानी ICMR ने प्राइवेट लैब्स के लिए कोविड-19 के टेस्ट के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. इसकी अधिकतम कीमत 4500 रुपये है. संदिग्ध मामलों में स्क्रीनिंग टेस्ट 1500 रुपये का होगा और कन्फर्मेशन टेस्ट की कीमत अतिरिक्त 3000 रुपये होगी. आईसीएमआर ने हालांकि प्राइवेट लैब्स से मुफ्त या कम कीमत पर टेस्ट करने का अनुरोध किया है.
असम में बच्चे का कोरोना टेस्ट निकला नेगेटिव
असम सरकार में मंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने कहा कि जोरहाट मेडिकल कॉलेज एंड रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर में जिस 4 साल का कोरोना संदिग्ध बच्चे का रिजल्ट नेगेटिव आया है. असम में अब तक कोविड-19 का कोई केस नहीं है.
 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close