विदेश

कोरोना वायरस महामारी: अमेरिका के लिए सबसे बुरा दिन, एक दिन में रेकॉर्ड 2500 से ज्‍यादा मौतें

Spread the love

 
वाशिंगटन

कोरोना महासंकट से बेहाल अमेरिका में गुरुवार को एक दिन में 2500 लोगों की मौत हो गई है। दुनिया में कोरोना वायरस से यह एक दिन में सबसे ज्‍यादा लोगों के मरने का रेकॉर्ड है। इससे मरने वालों का आंकड़ा 33,500 पहुंच गया है। इससे पहले अमेरिक राष्‍ट्रपति कार्यालय व्‍हाइट हाउस ने अनुमान लगाया था कि सोमवार को सबसे बुरा दिन होगा और 2150 मौतें होंगी।
इस बीच अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या भी लगातार बढ़ती जा रही है। इस महामारी से 30550 लोग और संक्रमित हो गए हैं जिससे कुल संक्रमित लोगों की संख्‍या बढ़कर 658,962 हो गई है। विशेषज्ञों का मानना है कि भले ही नए मामलों की संख्‍या में कमी आ जाए या अस्‍पताल में भर्ती होने वालों की संख्‍या कम हो जाए आने वाले दिनों में मौतों का यह सिलसिला जारी रह सकता है। उन्‍होंने कहा कि इसकी वजह यह है कि बड़ी संख्‍या में मरीज पहले से अस्‍पतालों में भर्ती हैं और उनमें से कई लोगों की मौत हो सकती है।

यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन के मॉडल के मुताबिक अगस्‍त की शुरुआती महीने तक अमेरिका में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्‍या 68,800 पहुंच सकती है। इस मॉडल में अनुमान लगाया गया है कि अभी अमेरिका कुल संभावित मौतों के आधे तक नहीं पहुंचा है। अमेरिका का न्‍यूयॉर्क शहर अभी भी कोरोना वायरस का गढ़ बना हुआ है। हालांकि मौतों के आंकड़े में कमी आई है। न्‍यूयॉर्क में पिछले 24 घंटे में 606 लोगों की मौत हुई है। इससे शहर में मरने वालों की कुल तादाद बढ़कर 12100 पहुंच गई है।

ट्रंप का अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से खोलने का ऐलान
इस बीच अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने चरणबद्ध तरीके से देश की अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से खोलने का ऐलान किया है। साथ ही गवर्नरों को यह अधिकार देने जा रहे हैं कि वे अपने राज्‍य में प्रतिबंधों में ढील देने का फैसला करें। इससे पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया था कि देश में कोरोना वायरस का सबसे बुरा दौर बीत चुका है।

उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था, 'यह साफ हो चुका है कि हमारी आक्रामक रणनीति काम कर रही है। लड़ाई जारी है लेकिन डेटा बताते हैं कि राष्ट्रीय स्तर पर हम कोरोना के नए मामलों के लिहाज से पीक (सबसे ज्यादा नंबर या शिखर) को पार कर चुके हैं।' दरअसल, उनका दावा इस बात को लेकर था कि अब कोरोना के मामले घटते जाएंगे। अमेरिका के बाद कोरोना ने इटली में सबसे ज्यादा जानें ली हैं। यहां इनफेक्शन के चलते 21,645 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, स्पेन में 19,130 लोगों की मौत कोरोना की चपेट में आने से हो चुकी है।
 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close