देश

कोरोना वायरस को लेकर दिल्ली मेट्रो में नए दिशा-निर्देश एक दिन बाद भी लागू नहीं

Spread the love

 नई दिल्ली
कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों पर लगाम लगाने के लिए दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DMRC) द्वारा गुरुवार को जारी अडवाइजरी एक दिन बाद भी लागू नहीं हो पाया है। डीएमआरसी ने हालांकि कहा है कि यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग, खड़े होकर यात्रा नहीं रहना, भीड़भाड़ बाले स्टेशनों पर ट्रेनों का नहीं रुकना, यात्रियों का ट्रेन में एक सीट छोड़कर बैठना सहित तमाम निर्देशों का सख्ती से पालन करने में कुछ दिनों का वक्त लगेगा और अडवाइजरी इसलिए जारी कर दिया गया था, ताकि लोग इसका खुद पालन करें।
टाइम्स ऑफ इंडिया ने शुक्रवार को पीक आवर में राजधानी के कई स्टेशनों का जायजा लिया, लेकिन अडवाइजरी में कई गई बातें कहीं पर भी लागू होती नहीं दिखी, जबकि शुक्रवार को मेट्रो में भारी भीड़भाड़ थी।

सुबह 10 बजे के आसपास कश्मीरी गेट स्टेशन पर यात्रियों की भारी-भरकम भीड़ दिखी, यह ऐसा वक्त होता है, जब भारी तादाद में लोग कॉरिडोर बदलते हैं। अन्य व्यस्त इंटरचेंज स्टेशन जैसे राजीव चौक और सेंट्रल सेक्रेटेरियट पर भी यात्रियों की भारी भीड़ दिखी।

ट्रेन के अंदर शायद ही जगह बची हो, जिसमें लोग खुद को सोशयली डिस्टेंस कर सकें, क्योंकि सभी सीटें भरी थीं। यात्रियों आम दिनों की तरह ही खड़े दिखे। नए नियमों को लागू कराने के लिए ट्रेन के अंदर या स्टेशनों पर मेट्रो रेल का कोई अधिकारी नहीं दिखा।

डीएमआरसी ने कहा था कि खांसने और छींकने वाले यात्रियों को मेट्रो के अंदर घुसने की इजाजत नहीं दी जाएगी, लेकिन कई यात्री ऐसा करते देखे गए। स्टेशनों पर साफ-सफाई में वृद्धि दिखी, लेकिन इसके साथ ही लोग संशय में भी दिखे। मोहित भाटिया नाम के एक यात्री ने कहा, 'उनका कहना है कि जिस स्टेशन पर बहुत ज्यादा भीड़भाड़ होगी, वहां मेट्रो नहीं रुकेगी, इस तरह की बातों से लोगों में घबराहट की स्थिति है।

डीएमआरसी के एग्जेक्युटिव डायरेक्टर (कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन) अनुज दयाल ने कहा, 'नए गाइडलाइंस को लागू करने के लिए दिल्ली मेट्रो सभी आवश्यक प्रयास कर रहा है। उन्हें धीरे-धीरे प्रभाव में लाया जा रहा है। इस महामारी को रोकने और आगे फैलने पर लगाम लगाने के लिए हर व्यक्ति को आगे आना होगा।'

दयाल ने कहा, 'यात्रियों की संख्या गुरुवार को वैसे भी घट गई है। गुरुवार को सिर्फ 37 लाख यात्रियों ने सफर किया, जबकि आम दिनों में 55-60 लाख यात्री सफर करते हैं। इस मुद्दे पर लोगों को जागरुक करने के लिए अनाउंसमेंट किए जा रहे हैं।'
 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close