देश

कोरोना वायरस के कारण आज अनिश्चित काल के लिए स्थगित हो जाएगा संसद का बजट सत्र: सूत्र

Spread the love

नई दिल्ली

कोरोना के असर के कारण संसद के दोनों सदनों से वित्त विधेयक के पारित होने के बाद सोमवार को बजट सत्र का समापन हो जाएगा। लोकसभा और राज्यसभा को अनिश्चित काल के स्थगित करने का फैसला सर्वदलीय बैठक के बाद लिया गया है। इससे पहले समाजवादी पार्टी, टीएमसी और शिवसेना के सांसदों ने संसद सत्र में शामिल नहीं होने का घोषणा कर दी थी।संसद के बजट सत्र का तीन अप्रैल को समापन होना था, लेकिन न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से जानकारी दी है कि इसे आज ही अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया जाएगा। ऐसा कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए किया गया है।

 

कोविड-19 से उत्पन्न खतरे के मद्देनजर इस सत्र के निर्धारित समय से 12 दिन पहले ही समाप्त होने की संभावना है। तृणमूल कांग्रेस समेत कई राजनीतिक दलों ने कई राज्यों द्वारा कोरोना वायरस को लेकर भिन्न-भिन्न अवधि के लिए बंदी की घोषणा किये जाने के कारण सोमवार को सत्र में हिस्सा नहीं लेने का निर्णय लिया है। 

 

शिवसेना के सासंद सोमवार से संसद के सत्र में हिस्सा नहीं लेंगे

महाराष्ट्र के शिवसेना नेता संजय राउत ने घोषणा की कि उनकी पार्टी के सांसद कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर सोमवार से संसद के बजट सत्र में नहीं जायेंगे। संसद में शिवसेना के मुख्य सचेतक राउत ने ट्वीट किया, '' कोविड-19 की स्थिति को ध्यान में रखकर शिवेसना के सासंद सोमवार से संसद की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेंगे। यह निर्णय हमारे पार्टी प्रमुख एवं (महाराष्ट्र के) मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सरकार को इस महामारी में मदद पहुंचाने के लिए लिया है।एनसीपी पहले ही घोषित कर चुकी है कि उसके ज्यादातर लोकसभा एवं राज्यसभा सदस्य अपने अपने निर्वाचन क्षेत्रों में प्रशासन को कोविड-19 का मुकाबला करने में सहयोग करने के लिए वहीं बने रहेंगे।

 

तृणमूल ने अपने सांसदों से संसद से वापस आने को कहा

तृणमूल कांग्रेस ने रविवार को घोषणा की कि उसने कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर अपने सभी सांसदों को संसद से लौटकर अपने निर्वाचन क्षेत्रों में वापस आने का निर्देश दिया है। तृणमूल के सांसद एवं राज्यसभा में पार्टी के नेता डेरेक ओब्रायन और लोकसभा सांसद एवं लोकसभा में पार्टी के नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने दोनों सदनों के पीठासीन अधिकारियों को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि सदन की कार्यवाही 23 मार्च (सोमवार) को पूरी कर दी जाए। तृणमूल के लोकसभा में 22 और राज्यसभा में 13 सदस्य हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close