अन्य खेलखेल

कोरोना ने ओलपिंक पर भी लगाया ‘ब्रेक’, एक साल के लिए टला खेलों का महाकुंभ

Spread the love

 
क्राइस्टचर्च 

कोरोना वायरस की वजह से टोक्यो ओलंपिक का आयोजन एक साल के लिए टल गया है. कोविड-19 के प्रकोप के कारण ओलंपिक के भविष्य पर पहले ही खतरा मंडरा रहा था. अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के ओलंपिक खेलों के लिए खिलाड़ी ना भेजने के फैसले के बाद ही खेलों के इस महाकुंभ को एक साल के लिए टालने का दबाव बन रहा था.

ओलंपिक खेलों का आयोजन 24 जुलाई से नौ अगस्त 2020 के बीच होना था. अब यह 2021 में खेला जाएगा. कोविड-19 के कारण विश्व भर में अभी तक 17,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.
 
जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने बताया है कि उन्होंने अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति से खेलों को एक साल के लिए टालने की अपील की थी. जिस पर IOC सहमत हो गया और खेलों के महाकुंभ को एक साल के लिए टालने का फैसला किया.

शिंजो आबे ने आईओसी अध्यक्ष थामस बाक से बातचीत के बाद कहा, ‘मैंने टोक्यो ओलंपिक खेलों को एक साल के लिए स्थगित करने की पेशकश की और अध्यक्ष बाक ने इस पर सहमति जताई.'

कनाडा-ऑस्ट्रेलिया ने IOC को दिया था झटका
जब इंटरनेशनल ओलंपिक संघ (IOC) ने ओलंपिक खेलों को स्थगित करने के मामले में कोई सख्त कदम नहीं उठाया तो कनाडा ने ऐलान किया था कि वह टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा नहीं लेगा.

कनाडियन ओलंपिक कमिटी (COC) और कनाडियन पैरालंपिक कमिटी (CPC) ने कहा था कि कोरोना वायरस के चलते वह ओलंपिक और पैरालंपिक में हिस्सा नहीं लेगा.

वहीं, ऑस्ट्रेलियाई ओलंपिक कमिटी ने सोमवार को अपने खिलाड़ियों को कहा था कि वे सभी अगले साल यानी 2021 को ध्यान में रखते हुए ओलंपिक की तैयारियां करें.

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close