बिहारराज्य

कालाबाजारी व लॉक डाउन तोड़नेवालों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल: DGP

Spread the love

पटना                                                                                                                      
डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने कहा कि कालाबाजारी करनेवालों बख्शे नहीं जाएंगे। पुलिस को कालाबाजी करनेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि जब देश कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए पूरी तरह लॉक डाउन हैं ऐसे में जो कालाबाजारी करता है वह देशद्रोह का काम कर रहा है। एफआईआर दर्ज की जाएगी और स्पीडी ट्रायल चलाकर ऐसे लोगों काा सजा दिलाएंगे। 

शुक्रवार को पुलिस मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन के दौरान उन्होंने कहा कि कालाबाजारी और लॉक डाउन तोड़ने वालों के नाम गुंडा रजिस्टर में दर्ज किए जाएंगे। कालाबाजी की शिकायत पर फौरन एक्शन लिया जा रहा है। सैकड़ों जगह छापेमारी की गई है। जनप्रतिनधियों के साथ बैठक में मैंने अपील की है कि वह अपने इलाके में कहीं कालाबाजारी हो रही है तो इसकी सूचना दें। कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉक डाउन का पालन करें। अधिकांश लोग सहयोग कर रहे हैं। उल्लंघन करनेवाले चंद लोग हैं जिनसे पुलिस सख्ती से पेश आ रही है। उन्होंने लॉक डाउन के दौरान सामूहिक धार्मिक अनुष्ठान पर पाबंदी लगी है। ऐसे कोई भी आयोजन नहीं किया जा सकता है। 

आवश्यक सेवा में रूकावट नहीं
उन्होंने कहा कि एससी से लेकर जवान तक को समझा दिया गया है कि आवश्यक सेवा में लगे वाहनों को न रोकें। किसी भी सूरत में उनकी आवाजाही प्रभावित नहीं होनी चाहिए। कौन-कौन सी सेवाएं इसमें शामिल हैं इसकी जानकारी दे दी गई है। 

बिहार की सीमा पर हर गाड़ी की चेकिंग
उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाओं में शामिल गाड़ियों के आनेजाने पर रोक नहीं है। पर बिहार की सीमा में प्रवेश करनेवाले सभी वाहनों की चेकिंग होगी। शराब माफिया इसका फायदा न उठा सकें इसके लिए सीमा पर वाहनों की चेकिंग के निर्देश दिए गए हैं। आईजी मद्यनिषेध को इस बाबत आदेश दिया गया है। 

राहत कोष में राशि देने पर विचार
एक सवाल के जवाब में डीजीपी ने कहा कि जवान से लेकर पुलिस अफसर तक मुख्यमंत्री राहत कोष में अंशदान देने पर विचार कर रहे हैं। व्यस्तता के चलते इसपर निर्णय नहीं हो पाया है।

सकारात्मक छवि बनाने का वक्त
डीजीपी ने कहा कि अंग्रेजों के जमाने से पुलिस की छवि नकरात्मक रही है। फील्ड के सभी पुलिसकर्मियों से कहा कि लॉक डाउन के दौरान समाज की ऐसी सेवा करें कि आपकी छवि में लोगों की नजर में सकरात्मक हो। जरूरतमंदों को हर मुमकीन सहयोग करें। पर जो नियमों का उल्लंघन करते हैं उनपर कड़ी कार्रवाई करें। 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close