क्रिकेटखेल

आईपीएल 2020 का भविष्य अधर में, नए खिलाड़ियों का बढ़ता इंतजार

Spread the love

 
नई दिल्ली

कोरोना महामारी के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 15 अप्रैल तक टलने से टूर्नमेंट में पहली बार खेलने के लिए तैयार युवा खिलाड़ी निराश हैं लेकिन धैर्य और अभ्यास के साथ वे खुद को प्रेरित कर रहे हैं।

बंगाल के युवा ऑलराउंडर शाहबाज अहमद ने विराट कोहली और एबी डिविलियर्स से पूछने के लिए सवालों की लिस्ट तक तैयार कर रखी है। लेकिन देश में जिस तरह से कोरोना वायरस के इनफेक्शन के मामले बढ़ रहे हैं, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के इस खिलाड़ी का इंतजार और लंबा हो सकता है।

भारतीय अंडर-19 टीम के सितारे यशस्वी जायसवाल और कार्तिक त्यागी की भी यही स्थिति है जिन्होंने टूर्नामेंट से पहले काफी सुर्खियां बटोरीं। अब उन्हें कम से कम 15 अप्रैल तक का इंतजार करना होगा। तमिलनाडु के स्पिनर वरुण चक्रवर्ती भी इससे अछूते नहीं है। हालांकि इन खिलाड़ियों का इंतजार लंबा होता जा रहा लेकिन इनका मानना है कि यह समय भी गुजर जाएगा।

शाहबाज का सपना
इस साल रणजी ट्रोफी में दमदार प्रदर्शन करने वाले शाहबाज ने कहा,‘खिलाड़ियों की बोली में जब आरसीबी ने मुझे चुना तो मेरे लिए वह सपना सच होने जैसा था कि मैं भारतीय कप्तान और एबी डिविलियर्स जैसे दिग्गजों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करूंगा।'

उन्होंने कहा,‘मुझे नेट्स पर उन्हें गेंदबाजी करने का मौका मिलता और मैं उनसे सलाह लेता। लेकिन हम सब जानते हैं कि स्थिति कैसी है। हमें संकट के खत्म होने का इंतजार करना है। हरियाणा के मेवात में रहने वाले 25 साल के इस खिलाड़ी ने कहा कि, ‘मैं खुद को फिट रखने के लिए घर में ही शारीरिक अभ्यास कर रहा हूं।’

कार्तिक की मेहनत
अपनी गति से सब को प्रभावित करने वाले यूपी के तेज गेंदबाज त्यागी के लिए अच्छी बात यह है कि हापुड़ के उनके घर में प्रशिक्षिण करने के लिए पर्याप्त जगह है क्योंकि उनके पिता ने घर में ही पिच तैयार की है और नेट लगाया है। इस युवा खिलाड़ी ने कहा,‘18 साल की उम्र में मैं वैसी बातों को नहीं सोच सकता जिस पर किसी का कंट्रोल नहीं है। मेरा काम प्रैक्टिस करना और तैयार रहना है। मैं हर दिन दो घंटे और सुबह दो घंटे शाम में ट्रेनिंग करता हूं।’उन्होंने कहा,‘हां, मेरे घर के पीछे के हिस्से में पिच है। इसलिए मैं एक विकेट लगाकर बोलिंग प्रैक्टिस करने में सक्षम हूं। इसके साथ थोड़ा शारीरिक प्रशिक्षण भी कर रहा जो हमारे हमें हमारे ट्रेनर आनंद दाते ने दिया है।’

आशावादी यशस्वी
त्यागी के अंडर-19 टीम के साथी और साउथ अफ्रीका में हुए वर्ल्ड कप के स्टार खिलाड़ी जायसवाल ने कहा कि वह अपने पहले आईपीएल को लेकर काफी रोमांचित थे लेकिन वास्तविकता यहीं है कि अभी इंसानी जिंदगी को बचाना ज्यादा जरूरी है। उन्होंने कहा,‘मैं राजस्थान रॉयल्स के साथ अपने पहले आईपीएल के लिए काफी उत्साहित था। मैं अपने कोच ज्वाला सर और टीम शिविरों में भी अपनी तैयारी कर रहा था। लेकिन हम इंसानों की तरह आशावादी रहना चाहिए।’

उन्होंने कहा, 'हमारी पहली प्राथमिकता यह होनी चाहिए कि हम खुद को स्वस्थ और सुरक्षित रखें और उन सभी के लिए प्रार्थना करें जो वायरस से पीड़ित हैं।’ घरेलू क्रिकेट में तमिलनाडु की टीम में जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहे चक्रवर्ती के लिए खुद को साबित करने का आईपीएल सही मंच है। कोलकाता नाइट राइडर्स के से चार करोड़ रुपये की बोली हासिल करने वाले इस खिलाड़ी ने कहा कि उम्मीद है, हम सभी जल्दी इस वायरस को हराएंगे।
 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close