बिज़नेस

अगर सरकार हां करे तो मजदूरों को दिल्ली, मुंबई से पटना छोड़ आएंगे: स्पाइसजेट

Spread the love

 
नई दिल्ली

स्पाइसजेट ने कोरोना वायरस के सामुदायिक फैलाव को रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के दौरान दिल्ली और मुंबई में काम करने वाले प्रवासियों को विशेष तौर पर बिहार से संबंध रखने वाले श्रमिकों को पटना पहुंचाने में मदद करने की पेशकश की है। कंपनी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने शुक्रवार को कहा कि यदि सरकार हां करती है तो वह इस काम के लिए अपने विमान और चालक दल की सेवाएं दे सकते हैं।

इंडिगो और गोएयर की भी पेशकश
सार्वजनिक पाबंदी की वजह से देश में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों पर 14 अप्रैल तक रोक है। इंडिगो और गोएयर ने भी सरकार के सामने कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने में किसी भी तरह की मदद के लिए ऐसी ही पेशकश की है।

मानवीय मिशन के लिए तैयार
सिंह ने कहा, ‘हम किसी भी मानवीय मिशन के लिए सरकार की जरूरत के मुताबिक अपने विमानों और चालक दल के साथ उड़ान भर सकते हैं। हम अपने मालवाहक विमानों से सरकार के लिए प्रतिदिन खाना, दवा और चिकित्सकीय उपकरण लेकर उड़ान भर रहे हैं।’

दिल्ली, मुंबई से उड़ानें
उन्होंने कहा, ‘हम प्रवासी मजदूरों की मदद करना चाहते हैं विशेषकर जो बिहार से हैं। इसके लिए हम दिल्ली और मुंबई से पटना के लिए उड़ान भर सकते हैं।’ कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए सरकार ने देशभर में 21 दिन की सार्वजनिक पाबंदी लगाई है। देश में कोरोना वायरस के अब तक 700 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और 17 लोगों की जान जा चुकी है।

पैदल बिहार लौटने को मजबूर मजदूर
लॉकडाउन के कारण सारे कल-कारखाने और कंपनियां बंद होने से बिहारी मजदूरों के समक्ष बड़ी ही विकट स्थिति उत्पन्न हो गई है। उनके पास न रहने के लिए जगह है और न खाने के लिए पैसे। बिहार लौटने के लिए उनके पास साधन भी नहीं है, इसलिए ये लोग पैदल ही अपने प्रदेश बिहार लौटने को मजबूर हैं।
 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close